अरविंद तिवारी

प्रयागराज/ ऋग्वेदीय पूर्वाम्नाय श्रीगोवर्द्धनमठ पुरीपीठाधीश्वर अनन्तश्री विभूषित श्रीमज्जगद्गुरू शंकराचार्य पूज्यपाद स्वामी श्रीनिश्चलानन्द सरस्वती जी महाराज प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी माघ मेले के अवसर पर प्रयागराज में 05 फरवरी से 18 फरवरी तक प्रवास करेंगे। इस दौरान महाराज श्री का प्रतिदिन दोपहर 12:00 बजे से 01:00 बजे तक संगोष्ठी और शाम 06:00 बजे से रात्रि 08:00 बजे तक धर्मसभा का कार्यक्रम आयोजित है।इसी तरह हरिद्वार कुंभ में भी पुरी शंकराचार्य जी का प्रवास 08 अप्रैल से 28 अप्रैल तक रहेगा। कुंभ मेले के अवसर पर ही 24 , 25 एवं 26 अप्रैल को 22 वां राष्ट्र रक्षा एवं साधना शिविर का आयोजन निर्धारित है। पुरी शंकराचार्य जी आज 04 फरवरी को नंदनकानन एक्सप्रेस से उड़ीसा से प्रस्थान कर कल 05 फरवरी को प्रातः प्रयागराज पहुँचेंगे। वहाँ माघ मेला क्षेत्र में त्रिवेणी मार्ग- दक्षिणी पट्टी तुलसी मार्ग चौराहा, पुल नंबर – 02 के पास महाराज श्री का शिविर स्थित है। प्रयागराज में माघ मेला कार्यक्रम समाप्ति पश्चात पुरी शंकराचार्य जी 18 फरवरी की रात्रि में धनबाद के लिये रवाना होंगे। पुरी शंकराचार्य जी के प्रतिवर्ष राष्ट्रोत्कर्ष अभियान प्रवास यात्रा कार्यक्रम में मकरसंक्रांति के अवसर पर गंगासागर यात्रा, होली एवं शरद पूर्णिमा पर हरिहर आश्रम वृंदावन, अप्रैल के अंतिम सप्ताह में देश के विभिन्न क्षेत्रों में तीन दिवसीय राष्ट्र रक्षा एवं साधना शिविर, चातुर्मास के पश्चात गया क्षेत्र से पितृ पक्ष में राष्ट्रव्यापी राष्ट्रोत्कर्ष अभियान की शुरुआत होती है। इन प्रवास कार्यक्रमों में प्रात:कालीन सत्र में धर्मावलम्बी भक्तवृन्द धर्म, ईश्वर एवं राष्ट्र से संबंधित अपनी जिज्ञासा का पूज्यपाद से समाधान प्राप्त करते हैं वहीं सायंकालीन सत्र में धर्मसभा के माध्यम से क्षेत्र के लोगों को धर्म, आध्यात्म, सनातन संस्कृति के मानबिन्दुओं की रक्षा, राष्ट्र रक्षा के उपाय, राजनीति के क्षेत्र में सक्रिय लोगों के लिये उत्तम शासन करने की विधा एवं समसामयिक विषयों पर मार्गदर्शन प्राप्त होता है। अत: ऐसे शुभ अवसर पर पुरी शंकराचार्य जी के अपने क्षेत्रों में पदार्पण पर सभी सनातनियों को उनके दिव्य वाणी से मंगलमय संदेश श्रवण एवं पुण्य दर्शन का अवश्य लाभ लेना चाहिये। महाराज श्री द्वारा संस्थापित संगठन आदित्यवाहिनी – आनंदवाहिनी, पीठ परिषद ने कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुये उक्त कार्यक्रमों में शामिल होने का विशेष आग्रह किया है।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here