रायपुर/धमतरी एक्ज़ेक्ट फाउंडेशन द्वारा संचालित दिव्यांग आवासीय प्रशिक्षण केंद्र के दिव्यांग विद्यार्थी रक्षाबंधन के लिए राखी तैयार कर रहे हैं, और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को भी राखी भेजे हैं।उनके नेतृत्व में देश-प्रदेश की जनता कोरोनाकाल के विपरीत परिस्थितियों में आम जनता के स्वास्थय व सुरक्षा के लिए शासन-प्रशासन कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है।

धमतरी जिले के रुद्री में संचालित दिव्यांग आवासीय प्रशिक्षण केंद्र में जिले व आसपास के लोग अपने व परिवार जनों के दिन विशेष पर अपनी खुशियां बांटने पहुचते है इसी दौरान राखी बनाते दिव्यांग विद्यार्थी की तस्वीर व राखी का वीडियो सोशल मीडिया में साझा की गई और राखी बनाने की वजह बताई गई। उक्त दिव्यांग आवासीय प्रशिक्षण केंद्र जनसहयोग से माध्यम से युवतियों के द्वारा संचालित किया जाता है।
राखी बना रही छात्रा चंचल सोनी एक पैर से दिव्यांग है, जो अपने एक पैर से नृत्य की प्रस्तुति अनेकों मंच पर दे चुकी है। चंचल बताती है कि अच्छा करने के लिए प्रेरणा उन्हें संस्था संचालित करने वाली मैडम लोगो से मिलती है जो अपना घर परिवार छोड़ हम जैसे लोगो के लिए कार्य कर रही है और हम लोगो को अपने हुनर को दिखाने के लिए मंच व अवसर देती है व हुनर को निखारने के लिए सलाह देती है और मदद करती है।
राखी बनाने व भेजने के विषय मे दूरभाष पर जानकारी देते हुए संस्था की अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मी सोनी ने बताया कि हम देश-प्रदेश के सभी प्रमुख लोगो को राखी भेजकर ध्यानाकर्षण के लिए पत्र प्रेषित कर रहे है जिससे वे दिव्यांगों के हुनर से वाकिफ हो और उनके लिए और बेहतर कुछ करने व अवसर देने पर विचार करे जिससे दिव्यांग जनों का जीवन सुधर सके। संस्था की सदस्य शशि निर्मलकर जो स्वयं दिव्यांग है उन्होंने कहा कि जो दिव्यांग विद्यार्थी हमारे मार्गदर्शन व सीमित संसाधनों में प्रशिक्षण से इतना अच्छा प्रदर्शन कर सकते है वह सरकार के मदद से और बेहतर बहुत कुछ करके दिखा सकते है उल्लेखनीय है कि एक्ज़ेक्ट फाउंडेशन के दिव्यांग विद्यार्थियों ने कई राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर पहला-दूसरा स्थान प्राप्त कर स्वर्ण व रजत पदक जीता है व एक दृष्टिबाधित छात्रा ने बीते वर्ष राज्य पुरुस्कार भी प्राप्त किया है।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here