रायपुर/ कोरोना संकट के कारण देश लॉक डाउन घोषित है, और इस दौरान शराब दुकानें भी बंद हैं। ऐसे में रोज मदिरापान करने वाले लोगों की परेशानी और बढ़ गई है, तथा शराब के विकल्प के रूप अन्य नशीले पदार्थों का सेवन कर रहे हैं। 31 मार्च को रायपुर के गोलबाजार थाना क्षेत्र के अंतर्गत बांसटाल के तीन लोगों ने शराब नही मिलने पर स्प्रिट पी ली थी, जिससे दो युवक दिनेश समुन्द्रे और अजगर अली की उसी दिन मृत्यु हो गई थी, जबकि तीसरे युवक अजय कुंजाम की इलाज के दौरान आज मृत्यु हो गई।
लॉक डाउन के दौरान रायपुर में मनमाने दाम पर अवैध शराब की बिक्री भी हो रही है, तो वहीं शहर के अवंति विहार और राजेंद्र नगर लालपुर इलाके की शराब दुकान में चोरी हो गई, और शक के दायरे में लेकर इन दुकानों के सुपर वाइजर व गार्ड से पूछताछ कर चोरों की भी तलाश की जा रही है। रायपुर के फाफाडीह इलाके की शराब दुकान का सुपर वाइजर ही दुकान से शराब निकालकर अवैध बिक्री कर रहा था,जिसे गिरफ्तार जेल भेज दिया गया है।

अवैध रूप से शराब की बिक्री व उसके उपभोग, चोरी, व स्प्रिट सेवन से मृत्यु को आधार बनाकर छत्तीसगढ़ शासन के उपक्रम छत्तीसगढ़ स्टेट मार्केटिंग कॉर्पोरेशन ने एक आदेश जारी किया है, जिसके अनुसार उच्च स्तरीय अधिकारियों की एक समिति बनाई गई है, जो लॉक डाउन के दौरान शराब की अनुपलब्धता के चलते स्प्रिट के सेवन , शराब चोरी व अवैध बिक्री को रोकने के लिए मदिरा प्रेमियों के लिए शराब दुकानों प्रारम्भ करने की कार्रवाई की जा सकती है।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here