रायपुर/ कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए छत्तीसगढ़ शासन नगरीय क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई है, यह आदेश सबसे पहले राजधानी रायपुर में जारी किया गया था, इसके बाद राजधानी में अफवाहों का बाजार गर्म हो गया, शहर में अफरा तफरी मच गई, लोग रोजमर्रा के जीवन काम आने वाली जरूरी सामानों का संग्रहण करने में लगे रहे।

सब्जी मंडी व किराना दुकान पर ही भारी भीड़ उमड़ पड़ी थी। पीएम मोदी के सम्बोधन के बाद ही लोगों को यह जानकारी हुई कि जरूरत का सामान रोज की तरह मिलता रहेगा तब ही आमजनों ने राहत की सांस ली।
लेकिन सरकारी आदेश के बाद भी राजधानी में धारा 144 की धज्जियां उड़ती साफ दिख रही थी, शहर की शराब दुकानों में मानो कोई सरकारी आदेश लागू नही होता, क्योंकि शराब दुकानों में मदिरा प्रेमी रोज की तरह बिना किसी भय के शराब खरीदने के लिए लाइन पर लगे रहे थे।आहतों में आराम से पीते रहे, जबकि जिला प्रशासन ने अस्थाई ठेलों गुमटियों पर खुले में खाद्य पदार्थों की बिक्री पर अगले आदेश तक रोक लगा दी थी, उसके बाद भी आहाता संचालक धड़ल्ले से बेख़ौफ़ खाद्य सामग्री बेचते नज़र आए, NNH द्वारा प्रकाशित फोटो रायपुर के पुराना बस स्टैंड स्थिति शराब दुकान व उसके आहाते की है।दुनिया भर में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस से बचने के लिए आम नागरिकों को स्वयं ही जागरूक होना पड़ेगा तभी इस महामारी से निजात मिल सकती है, हमारी जागरूकता, सतर्कता से ही हम अपने स्वास्थ्य की रक्षा कर सकते हैं, एवं अफवाहों पर ध्यान न दें।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here