रायपुर/ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए राहुल गांधी द्वारा आपत्तिजनक टिप्पणी करने के विरोध में भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने राजधानी रायपुर के आजाद चौक पर प्रदर्शन कर राहुल गांधी का पुतला जलाया था, इस दौरान पुलिस द्वारा पुतला जलाने से रोकने पर पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच झूमाझटकी भी हुई थी।
अगले दिन रायपुर के आज़ाद चौक थाने में धारा – 188 – लोक आदेश की अवहेलना, 147 – बलवा , 341 – सदोष अवरोध शासकीय कार्य में बाधा उत्पन्न करने की धाराओं के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है।

भाजपा व युवा मोर्चा के जिन नेताओं के ऊपर एफआईआर दर्ज की गई है, उनमें अमित मेश्री, सचिन मेघानी, सालिक ठाकुर, योगी अग्रवाल, गोपी साहू, राजेश पांडेय, अमरजीत सिंह छाबड़ा, मुरली शर्मा, अमित साहू, संजूनारायण सिंह, सलद श्रीवास्तव, सोनू राजपूत व अन्य के ऊपर मामला बनाया गया है।

भाजयुमो नेताओं ने इस कार्रवाई की कड़े शब्दों में निंदा की है। भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विजय जयसिंघानी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए राहुल गांधी की अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में भाजयुमो कार्यकर्ता लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन कर रहे थे, जिस पर एफआईआर दर्ज किया गया है, उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही जनता से जुड़े मुद्दों को लेकर आंदोलन करने पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगातार एफआईआर दर्ज किया जा रहा है, आज पुनः रायपुर के कार्यकर्ताओं पर भी दमनात्मक कार्रवाई की गई है, जिसकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं।
विजय जयसिंघानी ने आगे कहा कि विपरीत विचारधारा के राजनैतिक कार्यकर्ताओं का दमन करना कांग्रेस पार्टी का इतिहास रहा है, और भूपेश बघेल सरकार भाजयुमो कार्यकर्ताओं का कितना भी दमन कर ले, किंतु हम घबराने वाले नही हैं, जनहितों को लेकर हमारा संघर्ष जारी रहेगा।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here